New OLA Electric scooter 2022 Ola Electric scooter

क्यों लग रही इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग इस कंपनी ने बताई सबसे बड़ी बजह जाने कैसे लग जाती है आग 2022

क्यों लग रही इलेक्ट्रिक  स्कूटर में आग इस कंपनी ने बताई सबसे बड़ी बजह जाने कैसे लाई जाती है आग 2022

बीते कुछ दिनों में बहुत जगह पर इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लग रही है!
कई घटनाएं सामने आई हैं तो हर कोई जानना चाहता कि क्यों लग रही है इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग तो ऐसा क्यों हो रहा है ! तो इसका जवाब आप इलेक्ट्रिक स्कूटर बनाने वाली कंपनियां ने बताई है!
जब देशभर में हर जगह से इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की सूचना हर जगह से दिन प्रतिदिन आती जा रही है और बहुत अधिक दिन बढ़ती जा रही है ! तो लोगों की चिंता बढ़ती जा रही है यह गाड़ी मैं क्या हो रहा है इतना पैसा खर्च करने पर भी में आग लगती जा रही है तो बहुत ही ग्राहक जानना चाहते हैं कि आप क्यों लग रही है ! तो इनका जवाब इलेक्ट्रिक स्कूटर की कंपनियों ने इनकी जवाब दी अथेर ने इनकी जवाब बताइए ! 

इलेक्ट्रिक  स्कूटर में आग इस कंपनी ने बताई

भारतीय जलवायु के अनुकूल हो बैटरी

बिजनेस टुडे की एक खबर के मुताबिक एथर एनर्जी का कहना है कि इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की जो घटनाएं सामने आई हैं. उसकी सबसे बड़ी वजह इनमें इस्तेमाल होने वाली बैटरी है. अभी मार्केट में इलेक्ट्रिक गाड़ियों में जिन बैटरियों का अधिकतर इस्तेमाल होता है, वह सभी ठंडे इलाकों को ध्यान में रखकर तैयार की गई हैं.

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि अगर इलेक्ट्रिक स्कूटर बनाने वाली कंपनियां उनकी बैटरी को आयात कर रही हैं, तो उनके लिए जरूरी है कि उन्हें भारतीय परिस्थितियों के हिसाब से मॉडिफाई किया जाए.

ताकि ताकि कंपनियों को फायदा हो सके इलेक्ट्रिक स्कूटर बनाने वाली कंपनियां को यह बात सोचना चाहिए कि ऐसा इलेक्ट्रिक स्कूटर निकालने जिससे ग्राहकों को फायदा कोई नुकसान ना हो तभी तो सभी ग्राहकों को मन को बहाव लेने वाले ट्रिक्स स्कूटर की बिक्री प्रतिदिन बढ़ती जाएगी !

सड़क पर करें स्कूटर की जांच

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि एथर एनर्जी ने तय किया है कि वह अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर में ऐसी बैटरियां लगाएगी जो भारतीय मौसम और सड़कों के अनुरूप हो. साथ बोली कि कंपनियों को अपने प्रोडक्ट मार्केट में उतारने से पहले उनकी पर्याप्त ऑन-रोड टेस्टिंग करनी चाहिए. सिर्फ उनकी डिजाइन ही भारतीय परिस्थितियों के हिसाब से ना हों, बल्कि उन्हें ग्रिड चार्जिंग और सड़क पर बुरी से बुरी परिस्थितियों के अनुरूप बनाया जाना चाहिए.

सरकार ने दिए जांच के आदेश

ओला, ओकिनावा और प्योर ईवी के इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की घटना के बाद सरकार भी इसे लेकर सचेत है. सरकार ने इसकी जांच का जिम्मा रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) की Centre for Fire Explosive and Environment Safety (CFEES) इकाई को सौंपा है. ये पुणे में Ola Scooter और वेल्लोर में Okinawa Scooter में आग लगने की घटना की जांच करेगी. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने CFEES को इस घटना के कारण के साथ-साथ इस तरह की घटनाओं को रोकने के बेहतर उपाय सुझाने के लिए भी कहा है.

क्योंकि लोगों में भी डर का खबर ताजा रहा है कि आंख लहर क्यों रही है कि क्या उपाय है जब इलेक्ट्रिक स्कूटर बन सकती है तो इनकी उपाय कुछ निकाला जाए तभी ग्राहकों को लेने का मौका जाएगा क्योंकि इसी डर के कारण कोई ग्राहक लेना नहीं चाहते क्योंकि उनको डर लगता है कि किसी भी समय फट सकता है कोई ज्यादा चलने पर कुछ सुझाव निकलना चाहिए  !  

Electric Scooter  2022 Click Here
   New Electric        Scooter 2022      Click Here
   Telegram         join

Leave a Reply

Your email address will not be published.